जयपुर : 2 अप्रैल 2021 युवा आक्रोश रैली – गुजरात विधायक जिग्नेश मेवानी करेगें संबोधित

    मोदी सरकार के निजीकरण का होगा विरोध युवा आक्रोश रैली
जयपुर | वर्तमान संघ भाजपा कि केंद्र सरकार “सबका साथ, सबका विकास” के वादे पर ही सत्ता मे आई थी, लेकिन संघ भाजपा जैसी जातिवादी, सांप्रदायिक व पूंजीवादी ताक़तें कभी भी सभी समुदायों व वर्गो को साथ लेकर नहीं चल सकती है। आज अनेकानेक तरीको से गरीब, मजदूरो, कृषको, दलित-आदिवासी जैसे वंचित तबको के हितों पर जमकर कुठराघात किया जा रहा है। जहाँ एक तरफ वर्तमान केंद्र सरकार का इन कमजोर तबको कि क्षमता निर्माण पर कोई ध्यान नहीं है।
वहीं दूसरी तरफ वो इन वर्गों के लिए पूर्व से चली आ रही छोटी मोटी सहूलियतों व सुरक्षा कवर को भी खत्म करने पर आतुर है। अंधाधुंध निजीकरण के माध्यम से देशवासियों कि संपत्ति को कुछ कॉर्पोरेट घरानों पर लुटाया जा रहा है। इससे देश को  संपत्ति का नुकसान तो है ही, साथ ही सामाजिक न्याय व आर्थिक वितरण के लक्ष्य को भी पीछे धकेला जा रहा है। ज्ञात हो प्रधानमंत्री मोदी जी ने प्रतिवर्ष 2 करोड़ रोजगार देने का वादा किया था। लेकिन हकीकत तो यह है कि वे पूर्व से चले आ रहे रोजगार के अवसरों को भी नहीं बचा सके।
“लॉक डाउन” के चलते तो बेरोजगारी की इस समस्या ने विकराल रूप धारण कर लिया है। लेकिन अब भी सरकार के पास लफ़्फ़ाजियों के अलावा कोई ठोस विजन व कार्यक्रम नहीं दिखता। भयंकर बेरोजगारी के इस दौर मे जब आम जनता के सामने जीवन यापन का संकट खड़ा हो गया है। पेट्रोल डीजल के दामों मे हुई बेतहाशा वृद्धि  के चलते खाने पीने से सामानों की कीमतों मे भारी वृद्धि हुई है। सरकार आम लोगों की जेब मे पैसा पहुंचाने की किसी भी योजना पर काम  ना करके, कृत्रिम रूप से महंगाई बढ़ा कर उल्टे जनता की जेब से पैसा निकालने का ही प्रपंच कर रही है।
संघ भाजपा सरकार के एक और बड़े षड्यंत्र का नाम है “लेटरल इंट्री”, जो कि हमारी संवैधानिक व लोकतान्त्रिक व्यवस्था को ध्वस्त करने वाली तो है ही साथ ही देश की विविधता के अनुकूल भी नहीं है। इससे कमजोर वर्गों के लिए नीति निर्माण व उनकी क्षमता पर गंभीर नकारात्मक प्रभाव पड़ेगा। मजदूरो के सुरक्षा कवच कहे जाने वाले “लेबर एक्ट” को गत वर्ष निष्प्रभावी कर चुकी भाजपा सरकार के अगले निशाने पर अब कृषक समुदाय है। सरकार इन कृषि बिलों के माध्यम से किसानों के सुरक्षा कवच को तोड़ कर उन्हे धनपशुओं की मेहरबानी पर छोड़ देना चाहती है।
आदि गंभीर मुद्दो को लेकर 2 अप्रैल 2021 को धर्मेंद्र कुमार जाटव, दशहरा मैदान, जयपुर में एक विशाल जनसभा “युवा आक्रोश रैली” का आयोजन करने जा रहे है। जिसमे वक्ताओं के रूप में गुजरात विधायक श्री जिग्नेश मेवानी, प्रोफेसर रतल लाल, श्रीमति भावना दोहरे, श्रीमति मोनिका मीणा, श्री सुजीत सम्राट, श्री भगवाना राम, श्री जल्ला राम  आदि लोग वक्ता के रूम मे उपस्थित रहेंगे ।

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s