वरिष्ठ भामाशाह गुचिया ने शव वाहन देने की घोषणा की

सकारात्मक पहल 

Senior Bhamashah Guchiya announced to deliver the corpse

जोधपुर | हेमचंद जयनारायण पुरोहित चैरिटेबल ट्रस्ट के अध्यक्ष एवं वरिष्ठ समाज सेवी भामाशाह हेमचंद गुचिया ने फलोदी के लिये शव वाहन देेने की घोषणा की है। इससे शव को दाह संस्कार के लिये ले जाने में सुविधा होगी। शहर के विस्तार और कोरोना काल में शव वाहन की कमी महसूस होने लगी थी,कुछ समय से लोग शव वाहन को लेकर आपस में चर्चा करने लगे थे,कुछ लोगों ने भामाशाह गुचिया तक यह बात भी पहुंचाई थी और शव वाहन की व्यवस्था करने का अनुरोध किया जिसे स्वीकार करते हुए उन्होंने शव वाहन देने की घोषणा की है।

गुचिया के अनुज चैनसुख पुरोहित ने बताया कि शव वाहन वेद भवन कमेटी को भेंट किया जायेगा। शव वाहन तैयार करने का कार्य शुरू कर दिया गया है। जनवरी माह में वाहन फलोदी पहुंचने की उम्मीद है वाहन में शव रखने के अलावा 6 आदमियों के बैठने की भी व्यवस्था रहेगी। शहर के विस्तार के कारण भी शव वाहन की आवश्यकता महसूस हो रही थी। उल्लेखनीय है कि भामाशाह गुचिया फलोदी के मूल निवासी हैं तथा वर्तमान में मुंबई में प्रवास करते है,फलोदी में एडीएम ऑफिस के पास सरकारी काॅलेज का खूबसूरत भवन गुचिया की देन है। उन्होंने 7 करोड की लागत से भवन बनाकर सरकार को भेंट किया था जिसके बाद काॅलेज का नामकरण उनके पिता और पितामह जयनारायण मोहनलाल पुरोहित के नाम पर किया गया था जन सेवा के कार्य में सदैव ही आगे रहे है। सरकारी अस्पताल में मुख्य प्रवेश द्वार के अलावा आॅपरेशन थियेटर के बाहर विश्राम गृह, कम्प्यूटर कक्ष का भी निर्माण उन्होंने ही करवाया है।

 

गौरतलब हैं कि वर्षो से गुचिया जन सेवा के कार्य में जुटे है। करीब दो दशक पूर्व उन्होंने 12 लाख 50 हजार रूपये में जमीन खरीद कर फलोदी पोकरण प्रवासी समाज सेवा संस्थान जोधपुर को दी थी। लोर्डिया के सीनियर स्कूल में और फलोदी के सरकारी स्कूल में उपयोगी फर्नीचर तो बहुत पहले ही दे चुके हैं। आदर्श विद्या मंदिर में 31 लाख की लागत से हॉल का निर्माण भी उनके द्वारा करवाया गया है। कोरोना काल में भी उन्होंने प्रधानमंत्री राहत कोष में 11 लाख रूपये दिये है। गत वर्ष राज्य सरकार ने सरकारी कॉलेजों में स्मार्ट क्लासेज का प्रक्रिया शुरू की थी तो यहां भी सरकारी कॉलेज में इसके निर्माण की आवश्यकता महसूस हुई। सरकार का कहना था कि भामाशाहों के सहयोग से इसका निर्माण करवाया जाये। कॉलेज प्रशासन ने इसके लिये अपील भी की लेकिन जब कोई आगे नहीं आया तो कॉलेज प्रशासन ने हेमचंद गुचिया से ही आग्रह किया और उन्होंने करीब 25 लाख रूपये की लागत से स्मार्ट क्लास तैयार करवाई। कोरोना काल के कारण अभी तक इसका लाेकार्पण भी नही हुआ है। वेद भवन के कार्यकारी अध्यक्ष रमेश थानवी ने बताया कि शव वाहन गरीब परिवारों के लिए बिलकुल निशुल्क होगा लेकिन अन्य व्यक्तियों से सामान्य चार्ज वसूल किया जायेगा। इसके लिये अलग से बैंक अकाउंट खोला जायेगा। सामान्य चार्ज केवल इसलिये लेने का निर्णय किया गया है क्योंकि शव वाहन के लिये एक ड्राइवर रखा जायेगा और समय-समय पर रख-रखाव एवं मरम्मत की भी आवश्यकता रहेगी।

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s