25 सितम्बर 2020  भारत बंद आह्वान – किसानों के हक्क की लड़ाई लड़ेगें – कामरेड अमराराम

25 September 2020 India calls for a shutdown – farmers will fight for the rights –

Comrade Amaram

अखिल भारतीय किसान संघर्ष समन्वय समिति ने 25 सितम्बर 2020 को किसानों के अनदेखी व् पूंजीवाद के ख़िलाफ़ भारत बंद की कॉल दी

जयपुर | केंद्र की मोदी सरकार कृषि बिल को लेकर पहले से ही कटखरे में हैं पंजाब हरियाणा में विवाद और आन्दोलन जनता देख रही हैं लेकिन राजस्थान में किसानों के हक्क की लड़ाई लड़ने वाले और बड़े किसान नेता माकपा से पूर्व विधायक कामरेड अमराराम चौधरी ने भी भाजपा को चुनौती दे दी हैं  250 से अधिक किसान संगठनों के संयुक्त समिति द्वारा ” अखिल भारतीय किसान संघर्ष समन्वय समिति ” राजस्थान में भारत बंद कर रही हैं |

कोटा में तीनों कृषि बिल की होली जलाई गई – सीकर में कृषि मंडी बंद , जयपुर में भी आढ़तियों में बिल को लेकर भय  ,कांग्रेस भी कर रहीं हैं विरोध

प्रेसवार्ता को संबोधित करते – बायें से तारा सिंह सिध्धू , कामरेड अमराराम ,संजय माधव

अखिल भारतीय किसान संघर्ष समन्वय समिति के बैनर के तत्वधान में  कोटा कलेक्टरी पर किसान विरोधी तीनों विधायकों की प्रतियां जलाई गई।

कोटा | आज कलेक्टर कार्यालय के सामने आयोजित धरने को सम्बोधित करते हुए सभी वक्ताओं ने कहा की ये क़ानून खेती किसानी को बरबाद कर कोरपोरेट्स का ग़ुलाम बना देगी। मोदी जी कहते है की समर्थन मूल्य प्रणाली को समाप्त नहीं किया जायेगा। इस पर किसान नेताओं ने कहा की पिछले दो वर्ष से समर्थन मूल्य पर अपनी बेचने का क़ानूनी अधिकार प्राप्त करने के लिये संसद में निजी विधेयक लम्बित है लेकिन इस सरकार ने आज तक इसको क़ानून नहीं बनने दिया। नतीजन मात्र छह प्रतिशत किसान ही अपना माल समर्थन मूल्य पर बेच पाते है। इन क़ानूनों के लागू होने के बाद बड़े कोरपोरेट घराने मनमाने भाव पर माल ख़रीद क

रेंगे और उनका भंडारण कर मनमाने दाम पर उपभोक्ता को बेचेंगे। इस तरह इन क़ानूनों से किसान और उपभोक्ता दोनो की लूट होगी। इसीलिये इसका विरोध तबतक जारी रहेगा जबतक इनको रद्द नहीं किया जाता। इसी संघर्ष की कड़ी में आगामी 25 सितम्बर को सभी किसान संगठनों ने मिलकर भारत बंद का आह्वान किया है जिसको देश के मज़दूर व संगठनों का अच्छा समर्थन मिल रहा है।

कार्यक्रम का नेतृत्व संभागीय संयोजक फ़तह चंद बागला,अखिल भारतीय किसान सभा के राज्य उपाध्यक्ष दुलीचंद बोरदा,अखिल भारतीय किसान फ़ेडरेशन के महेन्द्र नेह,किसान सर्वोदय मंडल के हमीद गौड़,किसान महा पंचायत के ज़िला अध्यक्ष जितेन्द्र सिंह,समिति के कोषाध्यक्ष नंद लाल धाकड,चतुर्भुज पहाड़िया,आदित्य देव,लाल चंद सुमन,हंसराज चौधरी,शब्बिर अहमद,राजेन्द्र मीना आदि ने किया और मज़दूर नेता रविंद्र सिंह,राकेश गालव,उमाशंकर,महेन्द्र पाण्डे आदि ने समर्थन दिया।

 

 

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s