राजस्थान सरकार – जादूगर की कलाओं में फंस चुके है पायलेट , हो सकती है छुट्टी – सूत्र 

30 विधायक मेरे साथ है और गहलोत सरकार अल्पमत सचिन का बयान – बचकाना हो सकता हैं 

जादूगर की कलाओं में फंस चुके है पायलेट , हो सकती है छुट्टी  – सूत्र 

सचिन पायलेट को पार्टी से निष्कासित किया जा सकता हैं – फिर वह ना रहेगे उप मुख्यमंत्री ना ही कांग्रेस पार्टी के प्रदेशाध्यक्ष  –

राजस्थान में मुख्यमंत्री गहलोत ही हो सकते हैं सिरमौर – सूत्र 

***************************************

राजस्थान सियासत पार्ट 1 

पवन देव 

जयपुर | राजस्थान में सत्ता परिवर्तन और पावर का गेम किसी से छिपा नहीं हैं . राजस्थान सरकार या कहें कांग्रेस पार्टी में बड़ी उथल -पुथल चल रही हैं . मुख्यमंत्री अशोक गहलोत कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष व् उप मुख्यमंत्री सचिन पायलेट में  खीचतान में इतनी अधिक बड चुकी है की अब कांग्रेस के आलकमान को बड़े और कड़े निर्णय करने पड़ सकते हैं |

आज सचिन पायलेट की प्रदेश अध्यक्ष पद  से हो सकती हैं – छुट्टी 

सचिन पायलेट के भाजपा से सम्पर्क व् जब से राजस्थान में सरकार बनी हैं मुख्यमंत्री पद की लड़ाई अब जग जाहिर व् अंतिम छौर पर आ गई है राजस्थान में लम्बे समय से भाजपा पर सरकार गिराने के आरोप भी लगते  रहें हैं राज्यसभा चुनाव के समय में भी बाडेबंदी और सत्ता की सियासत तेज थी और विधायक खरीदने की पहल व् सरकार गिराने की कोशिश की गई थी जिसकी शिकायत राजस्थान के मुख्य सचेतक महेश जोशी ने एसओजी में की थी  जिस के तहत 3 विधायक व् 2 व्यपारियो पर केस दर्ज हो चुके हैं व् अशोक गहलोत व् सचिन पायलेट को भी एसओजी की और से पूछताछ के लियें नोटिस दिया गया था जिसके बाद से सभी सचिन पायलेट ने अपना आपा खो चुके हैं व् दिल्ली आलाकमान के पास शिकायत की है लेकिन लगता हैं अब वह भाजपा के खेमे में जा सकते हैं वैसे भी उनका प्रादेशाध्य पद का कार्यकाल पूरा हो चूका हैं अब पार्टी आज सर्व सहमती से नया प्रदेश अध्यक्ष चुन सकती हैं |

सिंधिया व्  जफर इस्लाम में सादा सम्पर्क – पायलेट से 

विधायक खरीद-फरोख्त के केस में सचिन के बयानों के लियें एसओजी ने उन्हें नोटिस जारी कर बयान लेने का समय माँगा हैं  गौरतलब हैं की  120v राजद्रोह में लगती हैं जिसको लेकर सचिन पायलेट ने अपना आपा खो दिया और बगावत कर दिल्ली जा पहुंचे कुछ विधायको के साथ , सचिन ने कहा भी है की उन्हें  गिरफ्तार करने की साजिश हो रहीं हैं

ज्योतिरादित्य सिंधिया के ट्विट से सियासत में हलचल 

दोहपर में भाजपा की एंट्री ज्योतिरादित्य सिंधिया सबसे पहले अपने पुराने साथी सचिन पायलट से मिलते हैं सूत्र बताते हैं कि इसके बाद भाजपा प्रवक्ता जफर इस्लाम पायलेट से संपर्क साधते हैं सियासी गुणा भाग का आकलन होता है इस चर्चा के बाद जफर इस्लाम लगातार भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा को अपडेट देते रहते हैं और नाडा पल-पल की जानकारी अमित शाह तक पहुंचाते हैं गौर करने वाली बात है कि जफर इस्लाम ने ज्योतिरादित्य सिंधिया को भाजपा में शामिल करने में अहम भूमिका निभाई थी सूत्रों का कहना है कि पायलेट अलग पार्टी बनाने पर भी बात करते हैं

शाम करीब 5:27 बजे ज्योतिराज सिंधिया ट्वीट करते हैं मेरे पुराने साथी सचिन पायलट की स्थिति देखकर दुखी हूं राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने उन्हें दरकिनार किया यह दिखता है कि कांग्रेस में टैलेंट की कद्र नहीं है |

One comment

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s