राज्य सभा का गणित और भाजपा की हॉर्स ट्रेडिंग , पगड़ी ( साफा ) इवेंट

राज्य सभा का गणित 

7 राज्यो में 18 राज्यसभा सीटों के लिए चुनाव 19 जून को सुबह 9 बजे से होंगे। कोरोना महामारी और देशव्यापी लोकडाउन की वजह से चुनाव आयोग ने मार्च में होने वाले राज्यसभा स्थगित कर दिए थे।

चुनाव आयोग के अनुसार चुनाव प्रक्रिया में मतदान केंद्र पर मतदान अधिकारी, राजनीतिक दलों के एजेंट, समर्थक एवं विधायक शामिल होंगे।जिससे मतदान केंद्र पर भारी भीड़ रहेगी जो वर्तमान विषम परिस्थितियों में उचित नहीं है साथ ही विधायक और नेता भी चुनाव स्थगित करने की मांग कर रहे थे।

अतः चुनाव केवल 7 राज्यो में 18 सीटो पर कराने का फैसला आयोग द्वारा लिया गया।जिसमें आंध्रप्रदेश और गुजरात की चार-चार सीट, मध्यप्रदेश और राजस्थान की तीन-तीन सीट,झारखण्ड की दो सीट तथा मेघालय और मणिपुर की एक-एक सीट शामिल है।

इसी के साथ राजनीतिक पार्टियों में दल बदल का खेल भी शुरू हो गया है। पिछले कुछ ही दिनों में कांग्रेस के तीन विधायको ने इस्तीफा दिया है। जिसपर सीएम अशोक गहलोत ने ट्वीट करके भाजपा सरकार पर निशाना साधते हुए कहा है की भाजपा हॉर्स ट्रेडिंग कर रही है।

गुजरात में कांग्रेस के दो विधायकों – मध्य गुजरात के कर्जन से अक्षय पटेल और दक्षिण गुजरात के कपराडा से जीतू चौधरी ने 3 जून को इस्तीफा दे दिया, जिससे पार्टी की विधानसभा संख्या 66 हो गई और 5 जून को, एक तीसरे विधायक, बृजेश मेरजा ने अध्यक्ष राजेंद्र त्रिवेदी को अपना इस्तीफा सौंप दिया, और कांग्रेस पार्टी की प्राथमिक सदस्यता भी छोड़ दी जिससे कांग्रेस की मुसीबत और बढ़ गई है।
कांग्रेस के पास अब 182 सदस्यीय सदन में 65 विधायक हैं,ये 65 विधायक शनिवार (6 जून) को अंबाजी, राजकोट और वड़ोदरा में तीन रिसॉर्ट में पैक किए गए थे ताकि उन्हें “अवैध शिकार” के भाजपा के प्रयासों से बचाया जा सके।

वही राजस्थान में कांग्रेस की स्थिति मजबुत दिख  रही है।कांग्रेस के पास 107 विधायको का समर्थन है साथ ही कांग्रेस का दावा है कि राज्य में 13 निर्दलीय विधायक व अन्य दल भी गहलोत सरकार के पक्ष में वोट करेंगे।

राजस्थान में अफवाह का दौर 

राजस्थान में इन दिनों राजनेतिक गलियारों में एक बात दबी जुबा में चर्चा में है की भाजपा राजस्थान में भी जोड़ तोड़ की कोशिश कर रहीं है और इसका केंद स्थान गुरुग्राम का वेदांता अस्पताल  है क्योकि भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा और राजस्थान के सामाजिक न्याय व् आपदा प्रबंधक मंत्री  मास्टर भंवर लाल में भर्ती है जो सचिन पायलेट के खेमे के है  और कुछ लोग इसे ” पकड़ी ” इवेंट से जोड़ रहें है की जिन विधायकों ने पकड़ी बांधी है वह बगावत कर सकते हैं |

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s