वर्ल्ड हेरिटेज सिटी – जयपुर शहर बना – कोवीड – 19 केंद्र

World Heritage City – Jaipur City – Kovid – 19 Centers Received in Ramganj area – 34 Corona positive –

राजस्थान . जयपुर | विश्विक महामारी ” नोवल करोना वायरस { कोवीड – 19 } ” ने जहाँ विकसित देशों की आर्थिक व् मेडिकल व्यवस्थाओं को बुरी तरह प्रभावित कर दिया है वही भारत के प्रधानमंत्री मोदी ने फर्स्ट स्टेज पर इस सक्रमण को रोकने की कोशिश की लेकिन फिर भी 130 करोड़ अधिक जनसंख्या वाले देश को सफलतापूर्वक लॉक डाउन करना भी बड़ा काम है भारत में प्रशासन व् जनता में सामंजस्य देखा जा रहा है लेकिन आज एक कहावत सटीक बेठ रही है की – अमीरों का सेर सपाटा – गरीबो की मौत का पैगाम ” जहाँ राजस्थान में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने पहले ही 21 मार्च को घोषणा कर राजस्थान को 31 मार्च तक लॉक डाउन कर दिया था किन्तु राजस्थान में विदेश का दौरा कर लोटे लोगों ने राजस्थान को कोरोना की चपेट में ला दिया जिसके केंद बिंदु कपड़ो की महानगरी – भीलवाडा बना जिसके बाद राजस्थान की राजधानी जयपुर |

राजधानी जयपुर में ओमान से लोटे मुबारक अली रामगंज निवासी ने पुराने जयपुर { परकोटा } क्षेत्र में सक्रमण फेला दिया देखते ही देखते रामगंज क्षे त्र में प्रशासन ने लॉक डाउन से आगे बढ़ते हुयें कर्फ्यू लगा दिया लेकिन 31 मार्च को मुबारक अली के सम्पर्क में आयें 11 लोगों में कोरोना पॉजिटिव पाया गया है अब हेरिटेज जयपुर में हार्ड कोर कर्फ्यू लगा दिया गया है |

राजस्थान में कोरोना पीड़ित –
राजस्थान में आज वर्तमान समय तक 93 लोग पॉजिटिव मिले है इसमें से 40 केस तो भीलवाडा व् जयपुर से ही है वही दूसरी और कोरोना से 3 मौते राज्य में हो चुकी है कोविड -19 अभी राज्य में 2 स्टेज पर स्थित है अभी कम्युनिटी ट्रासमिशन नहीं हो पाया है अब राज्य प्रशासन भीलवाडा के डॉक्टर व् रामगंज के मुबारक अली पर केस करने की तैयारी कर रही है |

विश्वपटल पर अलग पहचान रखता है – गुलाबी शहर जयपुर

जयपुर शहर { पिंकसिटी } के नाम से जाना जाता है यह शहर विश्वपटल पर अपनी वास्तुकला , हेरिटेज हवेली , महल -किले , तीज -त्यौहार के लियें व् पर्यटन स्थलों के लियें विश्व- भर में प्रसिद्ध है लेकिन हालिमें में यूनेस्को द्वारा 5 फ़रवरी 2020 को विश्व धरोहर शहर’ (World Heritage City) का दर्जा मिला है यूनेस्को की महानिदेशक आंद्रे अजोले ने अल्बर्ट हॉल पर एक समोराह में नगरीय विकास मंत्री शांति धारीवाल को जयपुर का यह प्रमाण पत्र दिया था |

समारोह में यूनेस्को की महानिदेशक आंद्रे अजोले ने कहा था की जयपुर के लोगों ने टिकाऊ भविष्य के निर्माण हेतु सांस्कृतिक विरासत के संरक्षण के जो प्रयास किए हैं, उन्हें अंतरराष्ट्रीय समुदाय ने मान्यता दी. यूनेस्को की टीम ने दीवान-ए-आम, दीवान-ए-खास, शीश महल, मानसिंह महल और आमेर किले का दौरा किया था , भारत आने वाला प्रत्येक पर्यटक 70 प्रतिशत जयपुर आता है जो की गोल्डन ट्रायएंगल { दिल्ली आगरा राजस्थान } में अंतर्गत आता है लेकिन अब यह शहर मीडिया रिपोटो में वैश्विक महामारी कोरोना का केंद बन चूका है |

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s