जम्मू-कश्मीर से आतंकवादियों को बाहर निकालने के लिए नाकेबंदी कर, सघन तलाश अभियान चलाने का आह्वान

जम्मू।  जम्मू-कश्मीर पुलिस महानिदेशक दिलबाग सिंह ने आतंकवादियों को निकाल बाहर करने के लिए कश्मीर में नाकेबंदी करके सघन तलाशी अभियान चलाने का आह्वान किया है। पाकिस्‍तानी सेना ने इस क्षेत्र में हाजी पीर इलाके में भारी गोलाबारी की, जिसका भारतीय सैनिकों ने मुंहतोड़ जवाब दिया।

उत्‍तर कश्‍मीर के उरी सेक्‍टर में नियंत्रण रेखा के समीप नागरिक ठिकानों और भारतीय अग्रिम चौकियों पर कल पाकिस्‍तान की ओर से की गई गोलाबारी से सेना का एक जेसीओ शहीद हो गया और एक अन्‍य महिला की भी मौत हो गई।

बता दें कि गृह मंत्रालय ने संविधान के अनुच्‍छेद-370 और 35 ए को हटाने तथा जम्‍मू कश्‍मीर और लद्दाख को देश के अन्‍य राज्‍यों और केन्‍द्र शासित प्रदेशों के समान स्थिति में लाने जैसे ऐतिहासिक कदम उठाए हैं। केन्‍द्र सरकार ने शिक्षा, अनुसूचित जाति और जनजाति तथा अल्‍पसंख्‍यकों के सशक्तिकरण के लिए जो कानून बनाए हैं वे अब जम्‍मू कश्‍मीर और लद्दाख में भी लागू हो गए हैं।

केंद्र सरकार द्वारा उठाये गये कदमों के कारण, नक्‍सल हिंसा से प्रभावित जिलों में कमी आई है। 2010 में जहां 96 जिले नक्‍सल हिंसा से प्रभावित थे जिसकी संख्‍या घटकर 60 हो गई है। इसके अलावा केंद्र सरकार ने भारतीय तीर्थयात्रियों के लिए करतारपुर साहिब कॉरिडोर का निर्माण किया है ताकि इसके माध्‍यम से लोग पाकिस्‍तान में स्थित गुरूद्वारा करतारपुर साहिब के दर्शन कर सके।

हाल ही में संशोधन के बाद, गैरकानूनी गतिविधि अधिनियम में चार व्‍यक्तियों -मौलाना मसूद अजहर, हाफिज मुहम्‍मद सईद, जकी उर रहमान लखवी और दाऊद इब्राहिम को आतंकवादी घोषित किया गया है। सरकार ने राष्‍ट्रीय जांच एजेंसी, एनआईए को भारत के बाहर होने वाले आतंकवाद से संबंधित अपराधों की जांच के लिए अतिरिक्‍त अधिकार प्रदान किया है।

संयुक्त राष्ट्र में भारत के राजदूत ने कहा कि 2019 में भारत को हाफिज सईद को आतंकी सूची से बाहर करने के प्रयासों को विफल करने में भी कामयाबी मिली। जलवायु परिवर्तन् के क्षेत्र में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा पचास किलोवाट क्षमता के गांधी सोलर पार्क का उद्घाटन भी संयुक्त राष्ट्र में भारत का सफल प्रयास था।

संयुक्त राष्ट्र में भारत के स्थाई प्रतिनिधि सैयद अकबरूद्दीन ने कहा है कि 2019 का वर्ष संयुक्त राष्ट्र में भारत की कई सफलताओं का साल रहा। उन्होंने कहा कि चाहे आतंकवाद का मुकाबला करने का मामला हो या जलवायु परिवर्तन अथवा सतत विकास का, भारत ने सभी क्षेत्रों में सफलताएं प्राप्त कीं।

उन्होंने कहा कि आतंकवाद से संघर्ष की दृष्टि से 2019 में भारत को आतंक फैलाने वालों को न्याय के कटघरे में खड़ा करने में अच्छी कामयाबी मिली। उन्होंने कहा कि भारत ने पाकिस्तान से भारत के खिलाफ साजिश करने वाले जैश-ए-मोहम्मद सरगना मसूद अजहर को संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की अंतरराष्ट्रीय आतंकियों की सूची में शामिल कराने में सफलता मिली।

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s