पीड़ित ठेकाकर्मी ” बिजली मीटर रीडर ” का शोषण अब बर्दाशत नहीं होगा – पवन देव

ठेकाकर्मी ” बिजली मीटर रीडर संघर्ष समिति ” का गठन – आंदोलन तेज 

 JVVNL के 300 संविधाकर्मियों को नोकरी से निकाला –

विधुत विभाग – ठेकेदार से पीड़ित 300 परिवारों का चुला – चौका बंद , 12 साल से काम कर रहे 300 लोगो को नौकरी से निकाला

जयपुर | जयपुर विधुत वितरण निगम लिमिटेड  { JVVNL } पर ठेके पर काम कर रहे 300 लोगों को आज नोकरी से निकाल दिया गया है कुछ लोग तो संविधा पर 12 साल से अधिक समय से काम कर रहे थे जिनकी उम्र औसतन 40 -42 के बीच है यह लोग परमानेंट होने के विश्वास पर मात्र 2900 रूपए महीने पर काम कर रहे थे इसके साथ ही ठेकेदार द्वारा ना तो इनका कोई PF जमा करवाया गया ना ही , नोकरी से हटाते वक्त कुछ आर्थिक सहायता की गई |

अब यह पीड़ित लोग दर – दर न्याय के लीये भटक रहे है क्योकि इन पीड़ित लोगो के ऊपर  इनके परिवार की भी ज़िम्मेदारी है आज इन लोगो के घर पर जीविकापार्जन की भी समस्या उत्पन्न हो गई है

मीटर रीडर संघर्ष समित – आंदोलन की रणनीति तय करती हुई

संघर्ष समिति का निर्माण 

जयपुर 6  जून 2019 आज जयपुर में लम्बे समय से ठेका प्रथा पर कार्यरत बिजली मीटर रीडरों की महत्तपूर्ण मीटिंग का आयोजन श्री मोहनलाल जाखड़ की अध्यक्षता में हुआ जिसमें ठेकाकर्मी बिजली मीटर रीडर संघर्ष समिति का गठन हुआ। संघर्ष समिति के प्रवक्ता पवन देव ने जानकारी देते हुए बताया कि मीटिंग में आज संघर्ष समिति की विधिवत कार्यकारिणी का गठन किया गया एवं जिन मुद्दों पर संघर्ष करना है उन महत्तपूर्ण मुद्दों को भी तय कर आगामी संघर्ष की भूमिका तय की गई। आज की महत्तपूर्ण मीटिंग में जो मुद्दे आम सहमति से तय किए गए वह निम्न है..

संघर्ष समिति की मांगे –

1.विधुत विभाग में वर्षो से ठेका प्रथा पर कार्य कर रहे ठेका कर्मियों को स्थायी तौर पर नियुक्ति प्रदान की जाए।

2.वर्तमान में जो भी व्यक्ति मीटर रीडर का कार्य ठेका प्रथा पर कर रहा है जब तक उसे विधुत विभाग में स्थायी नियुक्ति नही प्रदान की जाती है तब तक उसे अपने वर्तमान कार्य से हटाया नही जाए।

3.विधुत विभाग में जल्द से जल्द नई भर्तियां की जाए एवम नई भर्तियों में वर्षो से ठेका प्रथा पर कार्य कर रहे बिजली मीटर रीडरों को प्राथमिकता प्रदान की जाए।

4.ठेका प्रथा पर कार्यरत मीटर रीडर का ई एस आई व पी एफ की सुविधा प्रदान की जाए एवम जो पी एफ वर्षो से बकाया है उसे जमा कराया जाए

5.सभी ठेका प्रथा पर कार्यरत मीटर रीडर का न्यूनतम वेतन 15000₹ मासिक सुनिश्चित किया जाए।

संघर्ष समिति की कार्यकारिणी सदस्य 

1 सौरभ पचारिया, संयोजक

2 रामेश्वर उज्ववल,अध्यक्ष

3 मोहनलाल जाखड़, उपाध्यक्ष

4 ऋषि जोशी, उपाध्यक्ष

5 नरेंद्र सिंह पटवा, महासचिव

6 बनावरी लाल गुप्ता, सचिव

7 चिरंजीलाल तोणगरिया, सचिव

8 राजेन्द्र मोहनपुरिया, सचिव

9 अब्दुल क़दीर, सचिव

10 अरविंद त्रिवेदी, सचिव

11 रामकिशन शर्मा, सचिव

12 पवन देव, प्रवक्ता

13 बद्रीनारायण रैगर, कोषाध्यक्ष

14 पवन कुमार जैन, संगठन सचिव

15 आसिफ खान, कार्यकारिणी सदस्य

16 मनोज कुमार गोस्वामी, कार्यकारिणी सदस्य

17 बसन्त हरियाणा, मुख्य सलाहकार

18 अनिल गोस्वामी, सलाहकार

19 धर्मेंद्र आचरा, विशेष आमंत्रित सदस्य

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s