पांच राज्यों के हार के बाद – प्रधानमंत्री मोदी ने दिया इंटरव्यू – बेबाक रखी राय – जानें ख़ास

प्रधानमंत्री मोदी का पहला इंटरव्यू – राम मंदिर से लेकर नोट्बंदी सहित सर्जिकल स्ट्राइक पर बोले – 

प्रधानमंत्री मोदी ने अपने इंटरव्यू में  कांग्रेस पर भी साधा – निशाना 

प्रधानमंत्री मोदी ने क्या कहा जानें ख़ास –

  • राम मंदिर अभी सुप्रीम कोर्ट में मामला है इसलिए अध्यादेश नहीं लाया जाएगा – मोदी

  • नोट्बंदी कोई झटका नहीं था , हमने देश में एक साल पहले से ही जनता को बता दिया था की जिन के पास काला धन है कुछ जूर्माना सहित भर दीजिये लेकिन उन्हें लगा की मोदी भी बाकियों की तरह ही बोल रहे है –

  • सर्जिकल स्ट्राइक के मुद्दे पर- एक लड़ाई से पाकिस्तान सुधर जाएगा यह सोचना बहुत बड़ी गलती है, उसे सुधारने के लिए हमें और समय चाहिए।

  • सर्जिकल स्ट्राइक का फैसला एक बड़ा रिस्क था, लेकिन मुझे अपने सैनिकों की बेहद फिक्र थी *देश में करदाताओं की संख्याओं में हुई बढोतरी – यह हमारी सफलता ।

*भगोड़ो – को आज देश से भागना पड़ा क्योकि यहाँ कानून का पालन करना पड़ेगा , पाई -पाई चुकता करना पड़ेगा ,उन्हें लाने के लिए अंतर्राष्ट्रीय कानून का इस्तेमाल किया जा रहा है आज नहीं तो कभी भी उनकी सम्पति जब्त की जा सकती है , हम पाई पाई वापस लाने के लिए प्रतिबद्ध हैं।

*gst – को गब्बर सिंह टेक्स बोलने के सवाल पर कहा की जिस की जैसी सोच वैसे ही शब्दों का इस्तेमाल -जीएसटी की वजह से सामान पर टैक्स कम हुआ है। पहले हर मुकाम पर टैक्स लगता था।

  • क्या मिडिल क्लास के लिए आपके पास कुछ है? जवाह- हमें सोच बदलनी पड़ेगी। मिडिल क्लास स्वाभिमान से चलने वाला वर्ग है। वह किसी की दया पर नहीं जीता। नीचे के तबके को कुछ मिलना चाहिए, ऐसा मिडिल क्लास सोचता है। महंगाई घटाई है और इसका फायदा मिडिल क्लास को मिला है। मुद्रा योजना चलाई है। 15 करोड़ मुद्रा लोन दिए गए। सबसे ज्यादा फायदा मिडिल क्लास को मिला है। हमने मिडिल क्लास को घर बनाने के लोन में छूट दी है।

  • सिर्फ कर्जमाफी से किसानों का भला नहीं होगा। स्थिति बनानी चाहिए कि किसान कर्ज ना लें।

  • तीन तलाक पर अध्यादेश सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद लाया गया। लेकिन राम मंदिर का मामला सुप्रीम कोर्ट में है। संविधान के तहत ही काम करेंगे। मंदिर पर कानूनी प्रक्रिया के बाद ही अध्यादेश पर विचार। कांग्रेस के वकीलों ने सुनवाई में रुकावट डाली।

  • लिचिंग जैसी घटनाएं सभ्य समाज को शोभा नहीं देता, गलत है निंदनीय है। लेकिन ऐसा क्या 2014 के बाद ही हुआ। ये समाज के अंदर से हुआ। हम सबको मिलकर काम करना होगा। इस सरकार को करना चाहिए उस सरकार को करना चाहिए इसमें नहीं पड़ना चाहता, एक भी घटना हुई है तो निंदनीय है। हमें दूसरों की भावनाओँ का आदर करना चाहिए।

*इस्लामिक देशों में तीन तलाक पर बैन लगाया है। इसलिए यह आस्था , धर्म का मामला नहीं है। पाकिस्तान में भी इस पर रोक है। यह सामाजिक न्याय का मसला बनता है, धार्मिक आस्था का नहीं। भारत में मत रहा है कि सभी को समान हक मिलना चाहिए।

  • कोई गठबंधन बन रहा है, ऐसी मेरी कोई जानकारी नहीं है। मुझे केसीआर के महागठबंधन की कोई जानकारी नहीं है। ये क्यों बन रहा है। 5 साल हो गए महागठबंधन ने देश के हालात को लेकर कुछ कहा है क्या। अभी भी वहां से दो विचार निकलते हैं, एक सुर में कुछ बोला है क्या। उनका इरादा एकमात्र इरादा मोदी है, ये करो वो करो।

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s