चुनाव आयोग सख्त ……………प्रत्याशियों में डर

मतदाताओं को प्रभावित करने के प्रयासों पर रहेगी निगरानी  –

जयपुर, 28 नवम्बर। जिला निर्वाचन अधिकारी श्री सिद्धार्थ महाजन ने जयपुर नगर निगम, नगर पालिका, सहकारिता विभाग, जिला परिषद, आईसीडीएस तथा खाद्य नागरिक आपूर्ति विभाग को निर्देश दिये हैं कि वे विधानसभा आम चुनाव 2018 के तहत जिले के 19 विधानसभा क्षेत्रों में निर्दलीय एवं राजनैतिक दलों के प्रत्याशियों की ओर से दिये जाने वाले सामूहिक भोज, पूजन कार्यक्रम अथवा इसी प्रकार के अन्य आयोजनों की दैनिक रिपोर्ट जिला निर्वाचन अधिकारी कार्यालय को भिजवाया जाना सुनिश्चित करें।
जिला निर्वाचन अधिकारी ने बुधवार को जिला कलेक्ट्रेट सभागार में आयोजित बैठक में नगर निगम, नगर पालिका,

सहकारिता विभाग, जिला परिषद, आईसीडीएस तथा खाद्य नागरिक आपूर्ति विभाग के अधिकारियों को संबोधित करते हुए कहा कि उक्त सभी विभागों की ओर से अपने क्षेत्रों में निर्दलीय तथा राजनैतिक दलों के प्रत्याशियों की ओर से मैरिज हॉल/सामुदायिक भवन आदि में किसी भी प्रकार का आयोजन कर किसी भी प्रकार के उपहारों का वितरण किये जाने एवं इन आयोजनों में भोजन करवाये जाने पर निगरानी रखें तथा उसकी रिपोर्ट भेजे।
श्री महाजन ने कहा कि मैरिज हॉल, सामुदायिक भवन आदि में निर्दलीय तथा राजनैतिक दलों के प्रत्याशियों की ओर से मतदाताओं को उपहार वितरण अथवा भोजन जैसी प्रलोभन की गतिविधियों पर आगामी 7 दिसम्बर तक नज़र रखे और नियमानुसार कार्यवाही करे। इसी प्रकार यदि किसी धार्मिक आयोजन एवं पूजन के दौरान सामूहिक भोजन व लंगर आदि के आयोजन से मतदाताओं को प्रभावित करने का संदेह होता हो तो उन पर भी बराबर नजर रखी जाए।
उन्होंने ऎसी गतिविधियों का खर्चा प्रत्याशियों के चुनाव खर्च में जोड़ने के निर्देश देते हुए कहा कि वैवाहिक समारोह स्थलों तथा सामुदायिक भवनों एवं इसी प्रकार के अन्य स्थलों की बुकिंग की दैनिक रिपोर्ट भी प्रस्तुत करे। साथ ही ऎसे संदेहास्पद आयोजनों की सूचना आयकर की दृष्टि से परीक्षण करने के लिए आयकर विभाग को भिजवाए।
एसएचजी- एनजीओ की गतिविधियों पर भी रखें नज़र –

जिला निर्वाचन अधिकारी ने जिले के स्वयं सहायता समूह, गैर सरकारी संगठनों (एनजीओ) के माध्यम से राजनैतिक दलों/प्रत्याशियों की ओर से मतदाताओं को प्रभावित करने के लिए प्रलोभन के रूप में पैसा/उपहार आदि का वितरण किये जाने की गतिविधियों पर आईसीडीएस, जिला परिषद तथा सहकारिता विभाग को निगरानी रखने के निर्देश दिये।

पेट्रोल पम्पों पर भी निगरानी –
जिला निर्वाचन अधिकारी ने निर्देश दिये कि अपने-अपने क्षेत्रों के पेट्रोल पम्प पर निगरानी रखकर यह सुनिश्चित किया जावे कि वहां से प्रत्याशियों द्वारा पर्चियों के माध्यम से ईंधन न भरवाया जा रहा हो। यदि ऎसा हो तो ऎसे प्रकरणों में एफ.आई.आर. दर्ज की जावें। उन्होंने कहा कि अपने क्षेत्रों के पेट्रोल पम्प पर 12 नवम्बर से ईंधन बिक्री में आई बढोतरी पर भी नजर रखी जावे। इसी प्रकार पैसों/उपहारों आदि के वितरण के लिए टोकन का उपयोग किये जाने पर भी नजर रखी जावे।

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s